कोविड से हुई मौत मानकर कर दिया अंतिम संस्कार, 18 दिन बाद घर लौटी महिला

आंध्र प्रदेश का कृष्णा जिला. यहां के क्रिश्चियनपेट गांव में रहने वाले मुथुयाला गडय्या की 70 साल की पत्नी मुथुयाला गिरिजम्मा को पिछले महीने कोरोना हो गया. पति ने उन्हें विजयवाड़ा के एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया. फिर अस्पताल से सूचना मिली की उनकी पत्नी चल बसीं. गडय्या ने अंतिम संस्कार भी कर दिया. लेकिन 18 दिन बाद उनकी पत्नी वापस आ गईं.

क्या है मामला?

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, गिरिजम्मा को 12 मई को अस्पताल में भर्ती कराया गया. उनके पति रोज उनकी खोज-खबर लेने अस्पताल जाते रहे. लेकिन 15 मई को गडय्या को अपनी पत्नी कोविड वार्ड में नहीं मिलीं. उन्होंने दूसरे वार्ड में भी गिरजम्मा का पता लगाने की कोशिश की. लेकिन गिरिजम्मा कहीं नहीं मिलीं.

उन्होंने स्वास्थ्य कर्मचारियों से मदद मांगी. उन्होंने बताया कि हो सकता है कि गिरजम्मा की कोविड (Covid) से मौत हो गई हो. गडय्या पूरी तरह से टूट गए. थोड़ी देर बाद उन्हें एक शव सौंपा गया. बताया गया कि यह शव उनकी पत्नी गिरिजम्मा का है. शव कोविड प्रोटोकॉल के तहत पूरी तरह से पैक था. गडय्या उस शव को अपने गांव ले आए. उसी रोज अंतिम संस्कार कर दिया.

इसी बीच 23 मई को परिवार को एक और बुरी खबर मिली. इस दिन गडय्या का 35 साल का बेटा मुथुयाला रमेश कोविड से जिंदगी की जंग हार गया. रमेश जिला अस्पताल में भर्ती था. गडय्या ने अपने बेटे का भी अंतिम संस्कार किया.

इसके बाद तय हुआ कि गिरिजम्मा और रमेश की याद में एक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. इसके लिए एक जून की तारीख तय की गई.

लौट आईं गिरिजम्मा

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, परिवार ने एक जून को कार्यक्रम रखा ही था कि गिरिजम्मा अचानक से घर आ गईं. सब उन्हें देखकर हैरान रह गए. गिरिजम्मा ने बताया कि वो इस बात से काफी उदास और निराश हुईं कि रिकवरी के बाद उन्हें अस्पताल से कोई लेने नहीं आया.

गिरिजम्मा ने आगे बताया कि रिकवरी के बाद अस्पताल वालों ने उन्हें तीन हजार रुपये दिए, ताकि वे घर लौट सकें. वहीं उनके घर वालों ने बताया कि अंतिम संस्कार करने से पहले उन्होंने पैकिंग खोलकर गिरिजम्मा का शव नहीं देखा था क्योंकि उन्हें खुद कोविड पॉजिटिव होने का डर था.

दूसरी तरफ पुलिस ने बताया कि इस लापरवाही के लिए गिरजम्मा के परिवार की ओर से कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है. इसलिए अस्पताल के कर्मचारियों पर अभी तक कोई कार्रवाई भी नहीं की गई है.


 

वीडियो- तरुण तेजपाल रेप केस में कोर्ट का फैसला क्यों नहीं मान रहे लोग?





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here