जोहानसबर्ग की हार के बाद सोशल मीडिया पर ये क्या ट्रेंड हुआ!

0 26


साउथ अफ्रीका के खिलाफ जोहानसबर्ग में हुए सीरीज के दूसरे टेस्ट में भारतीय टीम को करारी शिकस्त मिली है. अफ्रीका ने भारत को सात विकेट से मात दे दी है. इस जीत के साथ ही अफ्रीका ने तगड़ा कमबैक करते हुए सीरीज भी 1-1 से बराबर कर ली है. मेज़बान टीम के कप्तान डीन एल्गर ने चौथी पारी में बेहद शानदार मैच जिताऊ पारी खेली जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया.

एल्गर ने नाबाद 96 रन बनाए और अपने टेस्ट करियर के 14वें शतक से महज़ चार रन पीछे रह गए. इसके अलावा अफ़्रीकी टीम के सभी टॉप ऑर्डर बल्लेबाज़ों ने भी उनका बखूबी साथ निभाया. सलामी बल्लेबाज़ एडन मार्करम ने 31 रन बनाए. जबकि तीसरे और चौथे नंबर पर बल्लेबाज़ी करने आए कीगन पीटरसन और रसी वान डर दुसें ने 28 और 40 रन की पारियां खेलीं. इसके बाद पांचवें नंबर पर आए तेम्बा बवुमा ने कप्तान का अच्छा साथ निभाया. बवुमा ने 23 रन की नाबाद पारी खेली और अफ्रीका की जीत सुनिश्चित कर दी.

भारतीय गेंदबाज़ों की बात करें तो मैच के चौथे दिन उनका प्रदर्शन साधारण रहा. मोहम्मद शमी, शार्दुल ठाकुर और रविचंद्रन अश्विन दूसरी पारी में एक-एक विकेट ही ले पाए. जबकि जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज को तो विकेट ही नहीं मिले. चौथे दिन के खेल की बात करें तो साउथ अफ्रीका की टीम को 118 रन से आगे खेलना शुरू करना था और हाथ में आठ विकेट बचे हुए थे.

दिन का पहला सेशन बारिश के चलते रद्द हो गया. काफी देर बाद बारिश रुकी और अफ्रीकी टीम बचे हुए 122 रन को हासिल करने के लिए मैदान पर उतरी. उम्मीद थी कि भारतीय गेंदबाज़ मेज़बानों को ये रन इतनी आसानी से बनाने नहीं देंगे. लेकिन भारतीय गेंदबाज़ी में वो धार नज़र नहीं आई. अफ्रीकी टीम ने पूरे दिन के खेल में महज़ एक विकेट गंवाया और मैच अपने नाम कर लिया.

इस जीत के साथ ही अफ्रीकी टीम ने भारत का 34 साल पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ दिया. साल 1987/88 में आखिरी बार किसी टीम ने भारत के खिलाफ़ चौथी पारी में 240 से ऊपर का लक्ष्य हासिल किया था. इसके साथ ही यह वांडरर्स के मैदान पर भारत की पहली टेस्ट हार भी है. इस मैच के बाद सोशल मीडिया पर कई खिलाड़ियों को लेकर चर्चा हुई. चलिए देखते हैं ऐसे ही कुछ ट्रेंड्स

# Dean Elgar

जोहानसबर्ग टेस्ट के बाद सोशल मीडिया को देख कर ऐसा लग रहा है मानो साउथ अफ्रीका को उनका नया हीरो मिल गया हो. क्रिकेट के एक्सपर्ट्स से लेकर फै़न्स तक, सभी उनकी तारीफ कर रहे हैं. साउथ अफ्रीकन राइटर फिरदौस मूंडा ने तो यहां तक कह डाला कि पिछले तीन सालों में ये साउथ अफ्रीका क्रिकेट का बेस्ट दिन है. उन्होंने लिखा,

‘पिछले तीन सालों में साउथ अफ्रीका क्रिकेट का बेस्ट दिन. इस देश में भारत के किले को तोड़ा गया है. डीन एल्गर ने असाधारण तरीके से टीम का नेतृत्व किया. और एक अनापेक्षित संन्यास के बावजूद हम केप टाउन एक-एक की बराबरी के साथ जाएंगे.’

The best day in South African cricket for the last three years. India’s fortress in this country has been breached. Dean Elgar has led exceptionally, with bat and in the aftermath of an unexpected retirement. We go to Cape Town 1-all! #SAvIND

— Firdose Moonda (@FirdoseM) January 6, 2022

# Captaincy

भारतीय टीम का कोई मैच हो और किंग कोहली का जिक्र ना हो, ऐसा कैसे हो सकता है. फिर चाहे विराट कोहली मैच में खेलें या ना खेलें. जोहानसबर्ग टेस्ट के बाद भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला. लोगों ने पिछले सारे स्टैट्स खोद डाले और बताने लगे कि विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम कभी भी 150 से ऊपर का टारगेट डिफेंड करते हुए नहीं हारी.

एक फैन ने तो यहां तक लिख दिया,

‘विराट को नापसंद करने वाले उन्हें कप्तानी से हटाना चाहते हैं मगर हम सब ये जानते हैं कि कोहली ने हमे विदेश में जाकर टेस्ट मैच जीतना सिखाया है. लव यू किंग.’

# Jasprit Bumrah

साउथ अफ्रीका जैसी प्लेइंग कंडीशंस हों और जसप्रीत बुमराह जैसे गेंदबाज़ को पारी में एक भी विकेट ना मिले, ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है. और जब ऐसा होता है, तो बुमराह को फै़न्स का गुस्सा भी झेलना पड़ता है. बुमराह ने दूसरी पारी में 4 से भी ज्यादा की इकॉनमी से रन लुटाए जिससे फ़ैन्स काफी नाखुश हुए. एक फैन ने तो गुस्से में लिख डाला,

‘बुमराह एक हाइली ओवररेटेड खिलाड़ी हैं. न्यूज़ीलैंड में निराश किया, साउथ अफ्रीका में निराश किया. ऐसे हालातों में जहां गेंदबाज़ों को मदद मिलती है. वो गेंदबाज़ी नहीं करते बल्कि थ्रो फेंकते हैं.’

# Johannesburg

सोशल मीडिया पर जोहानसबर्ग को लेकर भी काफी चर्चा हुई क्योंकि भारतीय टीम का इतिहास इस मैदान पर बेहद लाजवाब है. भारत ने अब तक इस मैदान पर छह टेस्ट खेले थे और उन्हें किसी में भी हार का सामना करना नहीं पड़ा था. राहुल द्रविड़ और विराट की कप्तानी में भारत ने यहां टेस्ट मैच जीते भी हैं. लेकिन इस हार के बाद फ़ैन्स ने सारे स्टैट्स निकाल डाले और बेचारे केएल राहुल इसका शिकार हो गए. एक फैन ने हार का सारा ठीकरा केएल राहुल के मत्थे मढ़ते हुए लिखा,

‘जोहानसबर्ग में टेस्ट हारने वाले केएल राहुल पहले भारतीय कप्तान बन गए हैं.’

# Siraj

मोहम्मद सिराज के लिए यह टेस्ट भूलने लायक रहा. वे इस पूरे मैच में एक भी विकेट नहीं ले पाए. पहली पारी में अपना दसवां ओवर करते समय उन्हें क्रैम्प आया और वे बाहर चले गए. दूसरी पारी में भी उन्होंने सिर्फ छह ओवर ही फेंके. एक फैन ने सिराज के इस साधारण प्रदर्शन को विराट कोहली की गैरमौजूदगी से जोड़ दिया. उन्होंने लिखा,

‘सिराज, एल्गर से कह रहे होंगे कि उन्हें मालूम है ना कि अगले मैच में विराट वापिस आ रहे हैं.’

ये कुछ ऐसा ही तंज था मानो सिराज सिर्फ विराट के टीम में होने पर ही अच्छा प्रदर्शन करते हैं. बता दें कि IPL में भी सिराज, कोहली की कप्तानी वाली टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के लिए ही खेलते हैं. और उन्होंने अपना अधिकांश इंटरनेशनल क्रिकेट भी उन्हीं के अंडर खेला है.


साउथ अफ्रीका के खिलाफ जोहानसबर्ग में शार्दुल ने क्या कमाल कर दिया ?





Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.