झारखंड: भीड़ ने मुस्लिम शख्स को पीटा, थूक चटवाया, ‘जय श्री राम’ के नारे लगवाए!

0 14


झारखंड के धनबाद (Dhanbad) में भीड़ द्वारा एक युवक को पीटे जाने का मामला सामने आया है. पीड़ित युवक मुस्लिम समुदाय का है. आरोप है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उसे पीटा, थूक कर चाटने को मजबूर किया और जबरन ‘जय श्री राम’ के नारे लगवाए. इस मामले में कई आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. पूरे घटनाक्रम से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है.

क्या है मामला?

इंडिया टुडे से जुड़े सिथुन कुमार मोदक की रिपोर्ट के मुताबिक, यह पूरा घटनाक्रम 7 जनवरी का है. इस दिन धनबाद के सिटी सेंटर इलाके में बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता इकट्ठा हुए. ये सभी लोग 5 जनवरी को पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में कथित चूक के मुद्दे पर विरोध प्रदर्शन के लिए आए थे. जिस इलाके में विरोध प्रदर्शन चल रहा था, वो शहर के व्यस्त इलाकों में शामिल है. ऐसे में वहां से कई दूसरे लोग भी मौजूद थे.

रिपोर्ट के मुताबिक, विरोध प्रदर्शन के दौरान वहां से जीशान नाम का एक शख्स गुजरा. आरोप है कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने उस शख्स की पिटाई शुरू कर दी. प्रदर्शन में शामिल बीजेपी नेताओं का आरोप है कि उस शख्स ने बीजेपी के झारखंड अध्यक्ष के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों के प्रयोग किया, जिसके बाद उसे वहां से हटा दिया गया. बीजेपी नेताओं ने इस पूरे घटनाक्रम को पार्टी के खिलाफ साजिश भी बताया है.

जीशान के साथ हुई मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. फोटो- आजतक

दूसरी तरफ, इस घटनाक्रम का जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें साफ देखा जा सकता है कि एक भीड़ मिलकर पीड़ित के साथ हिंसा कर रही है. उसे माफी मांगने और सड़क पर थूक कर चाटने को मजबूर किया जा रहा है. जय श्री राम के नारे लगवाए जा रहे हैं और इस दौरान उसे लगातार पीटा जा रहा है.

मानसिक हालत ठीक नहीं

इस पूरे घटनाक्रम के संबंध में पीड़ित युवक के भाई की प्रतिक्रिया भी आई है. पीड़ित युवक के भाई ने एक तरफ आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज कराई, वहीं दूसरी तरफ बताया कि जीशान की मानसिक हालत ठीक नहीं है. रेहान ने इस संबंध में कुछ दस्तावेज भी पेश किए हैं. इन दस्तावेजों के मुताबिक जीशान का रांची स्थित केंद्रीय मनोचिकित्सा संस्थान में इलाज चल रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक, रेहान ने कहा,

“मेरे भाई की मानसिक हालत ठीक नहीं है और मेरे भाई के साथ क्रूरता की सारी हदें पार की गईं हैं. इसलिए हमें न्याय चाहिए”

भाई रेहान द्वारा प्रस्तुत दस्तावेज. फोटो- आजतक
भाई रेहान द्वारा पेश किया गए दस्तावेज.

सीएम ने लिया संज्ञान, बीजेपी की सफाई

इस पूरे घटनाक्रम की राज्य के सत्ताधारी झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस के गठबंधन ने निंदा की है. गठबंधन के नेताओं की तरफ से कहा  गया कि राज्य में पहले ही मॉब लिंचिंग की घटनाओं को रोकने के लिए एक विधेयक पारित किया जा चुका, लेकिन ऐसे मामले अभी भी सामने आ रहे हैं.

दूसरी तरफ बीजेपी नेता सीपी सिंह ने कहा है कि पार्टी मामले की जांच करेगी और पता करेगी कि क्या हमलावर सच में बीजेपी के कार्यकर्ता थे. उन्होंने कहा कि अगर यह पाया जाता है कि वे पार्टी के कार्यकर्ता थे तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

इस बीच झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी इस मामले का संज्ञान लिया. उन्होंने ट्वीट करते हुए अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही. उन्होंने अधिकारियों को आदेश देते हुए कहा,

“कृपया उक्त मामले की जांच कर दोषियों पर सख्त कार्यवाई करते हुए सूचित करें. अमन चैन से रहने वाले झारखण्डवासियों के इस राज्य में वैमनस्य की कोई जगह नहीं है.”

इस मामले में पुलिस वायरल वीडियो के आधार पर ही कार्रवाई कर रही है. पुलिस ने बीजेपी के दो कार्यकर्ताओं के आवासों पर छापेमारी की और चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. धनबाद के सहायक पुलिस अधीक्षक (ASP) मनोज स्वार्गियारी ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.


वीडियो- झारखंड: मॉब लिंचिंग की ये घटना दहला देगी, युवक को बुरी तरह मारने के बाद उसे ज़िंदा जला दिया





Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.