पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज पा​र्थिव पटेल ने टीम इंडिया की हालिया सफलता का क्रेडिट इस लीग को दिया 

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.


भारत और इंग्लैंड के बीच जारी पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट में लॉर्ड्स में भारत की शानदार जीत ने उन आलोचकों को करारा जवाब दिया, जिन्होंने जुलाई में न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल में मिली हार के बाद विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाया था। भारत ने लॉर्ड्स टेस्ट के पांचवें और अंतिम जोरदार वापसी करते हुए मेजबान इंग्लैंड की टीम को 120 रन पर आउट करके 151 रनों से मैच जीत लिया। मैच का सबसे शानदार हिस्सा उन सभी भारतीय खिलाड़ियों के बीच का आपसी सौहार्द था, जिन्होंने अपने टीम साथियों का समर्थन करने और उनका उत्साह बढ़ाने के लिए काम किया। लेकिन जब भारत और इंग्लैंड के खिलाड़ियों के बीच तीसरे दिन से थोड़ा नोंक झोंक होने लगीं, तो सभी भारतीय खिलाड़ियों ने एक-दूसरे की पीठ थपथपाई।

IPL 2021: दूसरे फेज से पहले CSK को मिला गुड न्यूज, UAE leg में खेलने के लिए उपल​ब्ध रहेगा यह स्टार तेज गेंदबाज

इस बीच, पूर्व भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल का मानना ​​है कि ड्रेसिंग रूम में भारतीय खिलाड़ियों के बीच आपसी तालमेल और मजबूत दोस्ती ने टीम को हाल के समय में सफलता हासिल करने में मदद की है। उनका मानना है कि हाल के समय में टीम इंडिया की सफलता का श्रेय आईपीएल को भी दिया जाना चाहिए। 

विदेशी T20 लीगों में भारतीय खिलाड़ियों को खेलने की अनुमति नहीं देने पर जानिए क्या बोले पूर्व विकेटकीपर सबा करीम 

पार्थिव ने ‘प्लेयर्स ऑन लॉंग पॉडकास्ट’ में कहा, ‘ अब तक के भारतीय ड्रेसिंग रूम पर नजर डालें तो आपको ईशांत शर्मा विराट कोहली के साथ घूमते हुए नजर आते हैं। लेकिन, आप ईशांत शर्मा और उमेश यादव को भी देखें, दोनों अलग-अलग किरदार निभाते हैं। हार्दिक पांड्या के साथ ऋषभ पंत के साथ बाहर हुए। एक पश्चिम से है, दूसरा नॉर्थ से। मुझे लगता है कि कुछ खिलाड़ी ईस्ट से भी हैं।’

IPL 2021 से OUT हुए इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर एशेज सीरीज से भी हो सकते हैं बाहर

उन्होंने कहा, ‘अगर आप दिनेश कार्तिक और हार्दिक तथा क्रुणाल पांड्या को देखें, तो वे सबसे अच्छे दोस्त हैं। कोई अंग्रेजी नहीं बोल सकता, कोई हिंदी बोल सकता है और फिर भी वे वास्तव में अच्छी तरह से मिल जाते हैं। मुझे लगता है कि भारतीय टीम इस युग में वास्तव में अच्छा प्रदर्शन इसलिए कर रही है क्योंकि वे वास्तव में एक साथ अच्छी तरह से मिलते हैं और आईपीएल को भी इसका श्रेय मिलना चाहिए।’



Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.