बढ़ती गर्मी में Air cooler खरीदने का प्लान, इन 9 बातों को भूलकर भी ना करें नजरअंदाज

बढ़ती गर्मी में Air cooler खरीदने का प्लान, इन 9 बातों को भूलकर भी ना करें नजरअंदाज

Air cooler buying guide: गर्मियों का मौसम आ गया है, भारत के अधिकांश शहरों में दिन का तापमान 40 डिग्री को छू गया है या आसपास है। ऐसे में आप भी अगर गर्मी को मात देने के लिए कूलर खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो आइए आपको कुछ सुझाव देते हैं जो आपको Cooler खरीदते के निर्णय को आसान बनाने में मदद करेंगे।

पर्सनल कूलर (Personal Cooler) बनाम डेजर्ट कूलर (Desert Cooler), तय करें
इफेक्टिव कूलिंग के लिए सही प्रकार के कूलर का चयन करना महत्वपूर्ण है। छोटे और मध्यम आकार के कमरों के लिए, पर्सनल कूलर चुनें। बड़े कमरों के लिए, डेजर्ट कूलर एक बेहतर विकल्प हो सकता है। 150sqft से 300sqft के कमरों के लिए पर्सनल कूलर और 300sqft से बड़े कमरों के लिए डेजर्ट कूलर।

वाटर टैंक कैपेसिटी
Air Coolers में वाटर टैंक की कैपेसिटी एक महत्वपूर्ण फैक्टर है। कूलर का साइज बड़ा होगा तो टैंक कैपेसिटी भी ज्यादा होगा, इफेक्टिव कूलिंग के लिए हाई कैपेसिटी वाले एयर कूलर को चुने। छोटे कमरों के लिए 15 लीटर और मिड-साइज रूम के लिए 25 लीटर और बड़े कमरों के लिए 40 लीटर और इससे ज्यादा।

16 घंटे तक की बैटरी लाइफ के साथ HP का किफायती लैपटॉप भारत में लॉन्च, जानें कीमत व खासियतें

कहां रखना है कूलर
यदि आपको कूलर को रूम के बाहर, बैकयार्ड या फिर छत पर रखने वाले हैं तो डेजर्ट कूलर तो वहीं इनडोर यूसेज के लिए पर्सनल या टावर कूलर अधिक उपयुक्त हैं।

क्लाइट को भी रखें ध्यान
ड्राई क्लाइमेट कंडीशन में डेजर्ट कूलर ज्यादा इफेक्टिव होते हैं तो वहीं humid एरिया के लिए पर्सनल/टावर कूलर्स ज्यादा प्रभावी होते हैं।

नॉइस लेवल करें चेक
कुछ कूलर्स बहुत शोर करते हैं इसलिए, खरीदने से पहले कूलर के नॉइस लेवल की जांच करना महत्वपूर्ण है। सुनिश्चित करें कि आप अधिकतम फैन स्पीड पर नॉइस लेवल की जांच करें।

Airtel के इन यूजर्स को मिली ये खास मेंबरशिप, मिलेगा हेल्थकेयर सर्विस का फायदा

कूलिंग पैड की क्वालिटी
कूलिंग पैड कूलर के सबसे महत्वपूर्ण हिस्सों में से एक है। कूलर के लिए विभिन्न प्रकार के कूलिंग पैड उपलब्ध हैं, इनमें वूल वूड, aspen pads और honeycomb pads शामिल है। honeycomb pads अन्य दोनों की तुलना में लॉन्ग लास्टिंग कूलिंग देते हैं और इनका रखरखाव पर भी कम हैं।

आइस चैंबर
फास्ट कूलिंग के लिए कुछ कूलर मैन्युफैक्चर ने कूलर्स में अलग से आइस चैंबर को भी जगह दी है, आप पानी को ठंडा करने के लिए आइस क्यूब को टैंक में डाल सकते हैं।़

Samsung Galaxy F62 को सस्ते में खरीदने का मौका, ऐसे बचा सकते हैं 2,500 रुपये

बिजली की खपत
कूलर लेते वक्त ये ध्यान रखें कि कूलर पावर की खपत कम करते हो, आमतौर पर, मॉर्डन कूलर इन्वर्टर तकनीक के साथ आते हैं जो बिजली कटौती होने पर इनवर्टर पर भी चल सकते हैं।

एडिशनल फीचर्स भी देखें
आजकल कुछ कूलर्स रिमोट कंट्रोल, एंटी मॉस्किटो, डस्ट फिल्टर्स, आदि जैसी अतिरिक्त सुविधाएं प्रदान करते हैं। अगर बजट की कोई दिक्कत नहीं है तो आप इन्हें भी देख सकते हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here