बैल द्वारा मारे गए बुज़ुर्ग का वीडियो सांप्रदायिक दावे से शेयर, मृत बुज़ुर्ग मुस्लिम समुदाय से नहीं

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

30 सेकंड का एक CCTV फुटेज सोशल मीडिया पर काफ़ी शेयर किया जा रहा है. वीडियो में बैल एक व्यक्ति को टक्कर मारता हुआ दिखता है. और उसे हवा में उछालता है. दावा किया जा रहा है कि बकरीद के दिन हिन्दू देवता ‘नंदी’ ने एक मुस्लिम व्यक्ति को मारा. ट्विटर हैन्डल ‘@yvs_raizada’ ने भी इसी दावे के साथ ये वीडियो ट्वीट किया है. इस ट्विटर यूज़र को भाजपा नेता पीयूष गोयल फ़ॉलो करते हैं.

ईद अल-अज़हा 21 जुलाई को मनाई गई थी. इसके बाद कई ट्विटर यूज़र्स ने ये वीडियो शेयर किया है.

काफ़ी लोगों ने इस व्यक्ति को मुस्लिम मानकर मौत का मज़ाक उड़ाया है. (लिंक 1, लिंक 2, लिंक 3, लिंक 4, लिंक 5, लिंक 6 और लिंक 7)

This slideshow requires JavaScript.

लोगों ने पोस्ट के कमेंट्स में भी इस व्यक्ति की मौत का मज़ाक उड़ाया है.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

12 जुलाई को इस घटना के बारे में द ट्रिब्यून ने खबर दी थी. आर्टिकल के मुताबिक, मृतक की पहचान पानीपत के सोंधापुर गांव के रहने वाले 65 वर्षीय दीप चंद के रूप में की गई. ये घटना नज़दीक की इमारत में लगे CCTV कैमरा में रिकार्ड हुई थी.

Screen Shot 2021 07 26 at 11.52.26 AM

ETV भारत ने भी इस घटना को रिपोर्ट किया था. रिपोर्ट में बताया गया था कि इस व्यक्ति को पानीपत के सिवल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. बाद में दीपचंद को PGI रोहतक भी भेजा गया था. लेकिन गंभीर चोट के कारण दीप की मौत हो गई थी. ETV भारत ने दीप की तस्वीर भी शेयर की है.

hr pan 01 cctv fight 7204783 12072021175733 1207f 1626092853 973

ऑल्ट न्यूज़ ने सोंधापुर के सरपंच राजेश कुमार से भी बात की. उन्होंने बताया कि वीडियो में बैल के हमले से मरने वाला व्यक्ति दीपचंद है. और वो हिन्दू था.

कुल मिलाकर, बैल के हमला से एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई. लेकिन सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो मुस्लिम समुदाय पर निशाना साधने हुए शेयर किया गया. कई यूज़र्स ये वीडियो शेयर कर व्यक्ति की मौत का मज़ाक उड़ा रहे हैं.


अखिलेश यादव के नाम का फ़र्ज़ी ट्वीट – नहीं कही राम मंदिर की जगह बाबरी मस्जिद बनाने की बात :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.