मेरी मौत के बाद खुश रहना चाहती है… कहकर कोविड पॉजिटिव सास ने बहू को गले लगा लिया!

कोरोना संक्रमित मरीज की ऐसी कहानी आपने शायद ही पहले सुनी हो. कोरोना से बीमार होने के बाद आइसोलेशन में रह रही एक महिला इतनी बुरी तरह परेशान हो गई कि उसने अपनी बहू को भी कोरोना संक्रमित कर दिया. वो कैसे? गले लगाकर. आरोप है कि सास ने बहू को ज़बरदस्ती गले लगाया. इसके बाद बहू भी कोरोना पॉजिटिव हो गई.

मामला तेलंगाना के सोमरीपेटा गांव का है. बहू का आरोप है कि कोरोना संक्रमण की शिकार होने के बाद ससुराल वालों ने उसके साथ अत्याचार किया. उसे घर से बाहर निकाल दिया. तब उसकी बहन आई और उसे मायके ले गई. महिला के माता-पिता का घर राजन्ना सिरसिला जिले के थिम्मापुर गांव में है. महिला अभी वहीं आइसोलेशन में रह रही है.

बहू की उम्र करीब 25 साल है. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, बहू ने आरोप लगाया कि

मेरी सास ने कहा था कि तुम लोग मेरे मरने के बाद सुखी रहना चाहते हो. जब मैं संक्रमित हूं तो तुझे भी कोरोना संक्रमित होना चाहिए. ये कहकर मुझे गले लगा लिया.  

कोरोना संक्रमित होने के बाद बहू ने स्वास्थ्य अधिकारियों को बताया कि उनकी सास इस बात से निराश थीं कि कोरोना पीड़ित होने के बाद से परिवार में हर कोई उनसे दूरी बना रहा है. सास को बाकी सभी से अलग रखा जाता था ताकि दूसरों को कोरोना न हो. उन्हें दूर से खाना दिया जाता था. पोते-पोतियों को भी उनके पास नहीं जाने दिया जाता था. वह लगातार इस बात की शिकायत करती थीं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, करीब 20 साल की इस महिला की शादी तीन साल पहले हुई थी. तभी से वह ससुराल में रह रही थी. उसका पति ओडिशा में ट्रैक्टर चलाता है. करीब सात महीने पहले वह वहां गया था. मामले की जानकारी मिलने पर रेवेन्यू डिपार्टमेंट के दो अधिकारियों ने बहू के घर का दौरा किया. एक अधिकारी ने बताया कि हमने महिला को कोविड की दवाइयां दीं. ये भी कहा कि अगर वो अपनी सास के खिलाफ कार्रवाई करना चाहती है तो लिखित में शिकायत दे दे.

तेलंगाना में कोरोना के करीब पांच लाख 83 हज़ार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से 3,113 लोगों की मौत हो चुकी हुई है. तेलंगाना में बच्चों को भी कोरोना बुरी तरह जकड़ रहा है. बुधवार 2 जून को अधिकारियों ने बताया कि इस साल मार्च से मई के बीच 19 साल से कम उम्र के 37 हजार से ज्यादा बच्चे यहां कोरोना की चपेट में आ चुके हैं. जबकि पिछले साल 15 अगस्त से 15 नवंबर के बीच करीब 20 हजार बच्चों में ही कोरोना संक्रमण देखा गया था.

वहीं, पूरे देश की बात करें तो कोरोना मरीज़ों का आंकड़ा दो करोड़ 84 लाख को पार कर गया है. इसमें से अब तक तीन लाख 38 हजार से अधिक की मौत हो चुकी है.


वीडियो: कोरोना में यूपी के बंद स्कूलों में हुआ करोड़ों का घोटाला देख हिल गया मंत्रालय





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here