राहुल गांधी भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाना चाहते हैं? ABP न्यूज़ का फ़र्ज़ी ग्राफ़िक वायरल

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

एबीपी न्यूज का एक कथित ग्राफ़िक वायनाड के सांसद राहुल गांधी के एक ट्वीट के साथ वायरल हो रहा है. स्क्रीनशॉट के ऊपर दो कैप्शन हैं. पहले में लिखा है, “सही निर्णय आपकी सोच। एबीपी न्यूज़ टीवी चैनल पर भी दिखाया गए पप्पू के इस ट्वीट को देखने के बाद भी जो कांग्रेस का समर्थन करेगा वो वास्तव में अपने देश तथा धर्म) से गद्दारी ही करेगा.”

दूसरे कैप्शन में लिखा है, ”राहुल गांधी ने अभी-अभी वायनाड से यह ट्वीट किया है, इस ग्रुप के सभी सदस्य इसे जरूर पढ़ें.”

Posted by Say NO to Bollywood on Monday, 8 March 2021

वायरल तस्वीर में राहुल गांधी का कथित ट्वीट दिखता है जिसमें लिखा है, “नागरिकता बिल पास करा कर बीजेपी हिंदू राष्ट्र के एजेंडे पर चल रही है हमारे पूर्वजों का एजेंडा हमेशा से इस्लामिक कंट्री पर रहा है इसीलिए हमने दो इस्लामिक कंट्री बनाएं पाकिस्तान और बांग्लादेश अब हम भारत को हिंदू राष्ट्र बनते नहीं देख सकते.”

स्क्रीनशॉट फ़ेसबुक पर वायरल है और पिछले कुछ सालों से इसे कई बार शेयर किया गया है. ऑल्ट न्यूज़ को अपने आधिकारिक व्हाट्सऐप नंबर (+91 76000 11160) पर दावे की सच्चाई जानने के लिए कई रिक्वेस्ट मिलीं.

फ़ैक्ट-चेक

हमने हिंदी और अंग्रेजी में कई कीवर्ड का इस्तेमाल कर ट्विटर पर एडवांस सर्च किया, लेकिन हमें ऐसा कोई ट्वीट नहीं मिला. कथित ट्वीट के वायरल स्क्रीनशॉट में अल्पविराम और पूर्णविराम के अलावा बहुत सी व्याकरण की गलतियां भी हैं.

वायरल स्क्रीनशॉट में दिख रहे दोनों कैप्शन पिछले कुछ वर्षों से फैलाये जा रहे हैं. ये फ़ेक ट्वीट फ़ेसबुक यूज़र विक्रम सिंह भाटी ने 2019 में पोस्ट किया था. उस समय विश्वास न्यूज़ ने इस फ़र्ज़ी ट्वीट को खारिज किया था. दूसरा कैप्शन उस मेसेज से मेल खाता है जिसे भाटी ने दो साल पहले शेयर किया था.

ऑल्ट न्यूज़ ने वायरल स्क्रीनशॉट की तुलना एबीपी न्यूज़ द्वारा यूट्यूब पर पोस्ट किए गए वीडियो के साथ की. ये तुलना हम आपको नीचे दिखा रहे हैं.


2021 07 02 15 38 13 Photos

इन दोनों तस्वीरों में कुछ असमानताएं देखी जा सकती हैं:

1. वायरल तस्वीर का फ़ॉण्ट असल ग्राफ़िक्स के फ़ॉण्ट से मेल नहीं खाता है.
2. वायरल तस्वीर में एबीपी के लोगो के साथ-साथ बॉर्डर के चारों ओर लाल रंग का इस्तेमाल किया गया है.
3. वायरल तस्वीर में राहुल गांधी की फ़ाइल तस्वीर के पीछे कोई छाया नहीं है. असल में, ये ब्लर दिखाई देता है (हरे निशान से दिखाया गया है).

इस तरह, ये पता चलता है कि असल ग्राफ़िक के ऊपर राहुल गांधी की तस्वीर को जोड़ा गया है.

ऑल्ट न्यूज़ ने एबीपी न्यूज़ नेटवर्क (एएनएन) में न्यूज़ गैदरिंग के उपाध्यक्ष संजय ब्रैगटा से बात की. उन्होंने बताया कि ABP न्यूज़ ने ऐसा कोई ग्राफ़िक नहीं चलाया है. इसके अलावा, अगर राहुल गांधी ने इस तरह का कुछ ट्वीट किया होता तो मीडिया ने इसे ज़रुर कवर किया होता. लेकिन इस तरह की कोई रिपोर्ट कहीं भी मौजूद नहीं है.

इस तरह, एबीपी न्यूज का फ़र्ज़ी ग्राफ़िक इस मेसेज़ के साथ वायरल हुआ है कि कांग्रेस भारत को एक इस्लामी देश के रूप में स्थापित करना चाहती है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.