वर्ल्ड कप चैंपियन टीम का एक और खिलाड़ी चला अमेरिका, देश में लगातार इग्नोर होने के बाद इंडियन क्रिकेट को कहा अलविदा 

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.


भारत के स्टार खिलाड़ियों, खासकर वे खिलाड़ी जो 2012 में भारत को अंडर-19 वर्ल्ड कप जिताने वाली टीम का हिस्सा रह चुके हैं, का इंडियन क्रिकेट से संन्यास लेकर अमेरिका की तरफ से खेलने का सिलसिला लगातार जारी है। दिल्ली के ऑलराउंडर मनन शर्मा, भारत को 2012 में अंडर-19 वर्ल्ड कप जिताने वाले बल्लेबाज उन्मुक्त चंद और दिल्ली के पूर्व बल्लेबाज मिलिंद कुमार के बाद इस कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है। यह वह नाम है, जो 2012 में भारत को अंडर-19 वर्ल्ड कप जिताने वाली टीम का हिस्सा रह चुके हैं और उस खिलाड़ी का नाम हरमीत सिंह है। हरमीत ने भी अपने अंडर-19 टीम का साथियों की राह पर चलते हुए इंडियन क्रिकेट से रिटायरमेंट ले लिया है और अब वह अमेरिका के मेजर क्रिकेट लीग (एमसीएल) में खेलने का फैसला किया है। 

बाएं हाथ के स्पिनर हरमीत सिंह का एमसीएल के साथ तीन साल का कॉन्ट्रैक्ट हुआ है और अब वह सिएटल थंडरबोल्ट के लिए खेलेंगे। अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम का हिस्सा रहे हरमीत ने कहा है कि उन्हें मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) की ओर से लगातार नजरअंदाज किया जा रहा था, इसलिए अब उन्होंने अमेरिका के लिए खेलने का फैसला किया है। 28 साल के हरमीत ने भारत के डोमेस्टिक करियर में अब तक 31 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 34.18 की औसत से 87 विकेट चटकाए हैं और साथ ही 733 रन भी बनाए हैं।  

उन्मुक्त चंद की राह पर चले भारतीय क्रिकेटर मिलिंद कुमार, 30 साल की उम्र में लिया संन्यास

द टाइम्स ऑफ इंडिया से एक इंटरव्यू में हरमीत सिंह ने कहा, ‘मैंने जुलाई में ही संन्यास ले लिया था क्योंकि मैं मुंबई के लिए नहीं खेल रहा था, जो मेरी होम टीम थी। मुझे यहां क्रिकेट खेलने के लिए अच्छे पैसे मिल रहे हैं, जिससे मुझे सिक्योरिटी मिलती है। यहां क्रिकेट का लेवल भी बहुत अच्छा है। अगर आप लगातार 30 महीनों तक अमेरिका में रहते हैं, तो आप यहां की नेशनल क्रिकेट टीम के लिए खेलने के योग्य बन जाते हैं। मैंने 12 महीने पूरे कर लिए हैं, इसलिए अब केवल 18 महीने ही बचे हैं। 2023 की शुरुआत तक मुझे अमेरिका के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने के योग्य होना चाहिए। तब तक, मैं 30 साल का हो जाऊंगा। एक स्पिनर के लिए यह एक प्राइम-एज है।’

हरमीत से पहले अमेरिका में क्रिकेट खेलने के लिए इंडियन क्रिकेट से संन्यास लेने वाले खिलाड़ियों में मिलिंद कुमार, उन्मुक्त चंद, समित पटेल, मनन शर्मा और सिद्धार्थ त्रिवेदी भी शामिल हैं। मिलिंद कुमार रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और दिल्ली डेयरडेविल्स का हिस्सा रह चुके हैं। उन्होंने अमेरिका में माइनर लीग क्रिकेट के साथ कॉन्ट्रैक्ट किया हैं, जहां वह द फिलाडेल्फियंस का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

IND vs ENG: पूर्व इंग्लिश कप्तान नासिर हुसैन का बड़ा बयान, बोले- विराट कोहली को यह याद दिलाने की जरूरत है कि वे खेल नहीं चलाते

हरमीत ने आगे कहा कि उन्हें डोमेस्टिक टूर्नामेंटस में मुंबई के लिए खेलने का मौका नहीं मिला और पिछले एक दशक में वह केवल नौ ही मैच खेल पाए हैं। उन्होंने कहा, ‘ मैंने 2009 में मुंबई के लिए डेब्यू किया था, लेकिन खुद को साबित करने के लिए एक भी पूरा सीजन नहीं मिला। फिर भी 2017 तक मैं मुंबई के लिए खेलने का सपना देखता रहा। सही बताउं तो लगभग एक दशक में, मुझे मुंबई के लिए केवल नौ मैच खेलने को मिले। मुझे असफल होने का अवसर भी नहीं मिला! मुझे कभी खुद को साबित करने का मौका नहीं दिया गया।’





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.