स्टडी में दावा-भारत में कोविड से मारे गए 32 लाख लोग

0 14


देश में कोविड मौतों (Covid Death) का असल आंकड़ा आधिकारिक मौतों के आंकड़े का छह गुना हो सकता है. प्रतिष्ठित ‘साइंस जर्नल’ में छपी एक स्टडी में ये बताया गया है. स्टडी के मुताबिक, भारत में कोविड की वजह से अब तक 32 लाख लोग मारे जा चुके हैं. वहीं आधिकारिक आंकड़ा 4 लाख 81 हजार 178 है.

स्टडी में कहा गया है कि भारत में 27 लाख कोविड मौतें पिछले साल अप्रैल और जून के महीने के बीच हुईं, जब देश में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर चरम पर थी. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, स्टडी में कहा गया है,

“ऐसा माना जा रहा है कि भारत में कोविड मौतों की बड़े स्तर पर अंडर रिपोर्टिंग हुई है. ऐसा कोविड मौतों के अधूरे सर्टिफिकेट और मौतों को दूसरी वजहों से जोड़ने से हुआ क्योंकि ज्यादातर मौतें ग्रामीण इलाकों में हुईं, ज्यादातर स्वास्थ्य सेवाओं के आभाव में.”

ऐसे जुटाया आंकड़ा

इस स्टडी में भारत, कनाडा और अमेरिका के शोधकर्ताओं ने भाग लिया. स्टडी के लिए करीब एक लाख 40 हजार लोगों का टेलिफोनिक सर्वे किया गया. साथ ही साथ सरकार के हेल्थ मैनेजमेंट इनफॉर्मेशन सिस्टम से जानकारी जुटाई गई. वहीं दस राज्यों के सिविल रजिस्ट्रेशन सिस्टम में दर्ज मौतों को भी खंगाला गया. फिर इस डेटा का यूनाइटेड नेशंस पॉपुलेशन डिवीजन के सिस्टम के जरिए विश्लेषण किया गया.

इस स्टडी से जुड़े डॉक्टर पॉल नोवोसाद ने ट्वीट किया,

“अतिरिक्त मौतें लगभग तीस लाख के आसपास हैं. यह आंकड़ा आधिकारिक आंकड़े से बहुत बड़ा है. वैश्विक कोविड मौतों के आंकड़े में लगभग 20 लाख की अंडरकाउंटिंग है. सारे डेटा स्रोत और एनालिटिकल अप्रोच इस निष्कर्ष पर पहुंच रहे हैं कि भारत में पिछले साल गर्मियों में 20 लाख कोविड मौतें हुईं. वैश्विक कोविड मौतों में भारत का हिस्सा बहुत बड़ा है. इस बात को ध्यान में रखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन को अपने आंकड़े अपडेट करने चाहिए.”

वहीं इस स्टडी से जुड़े एक और डॉक्टर प्रभात झा ने कहा,

“हमारी स्टडी भी वही बात कह रही है, जिसे बहुत सी स्टडी कह चुकी हैं. भारत में कोविड मौतों की अंडरकाउंटिंग हुई है. यह पता लगाना भी बहुत जरूरी है कि तीसरी लहर में कोविड मौतों का आंकड़ा कितना रहने वाला है. अभी तक दूसरे देशों में तीसरी लहर, दूसरी लहर के मुकाबले बड़ी रही है. आने वाले दिनों में किसका टेस्ट किया जाता है, यह पॉलिसी शायद बदल जाए. लेकिन मौतों का आंकड़ा तो जस का तस रहेगा.”

इससे पहले भी इस तरह की स्टडी हो चुकी हैं. जिनमें बताया जा चुका है कि भारत में कोरोना वायरस महामारी से हुई मौतों का का असली आंकड़ा आधिकारिक आंकड़े से कहीं अधिक है. इन स्टडी के अनुमान के मुताबिक, भारत में 20 लाख से 50 लाख तक कोविड मौतें हुई हैं.


वीडियो- ओमिक्रॉन वैरियंट, डेल्टा के मुकाबले कितना घातक है?





Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.