हैदराबाद में मुस्लिम भीड़ के पुलिसवालों को पीटने के ग़लत दावे के साथ अहमदाबाद का वीडियो शेयर

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है जिसमें 2 पुलिसवालों को भीड़ लाठियों से पीटती हुई दिख रही है. इस वीडियो को तेलुगु में मेसेज के साथ शेयर किया जा रहा है और दावा किया जा रहा है कि मुस्लिम भीड़ ने हैदराबाद के कोंडापुर के हफ़ीज़पेट में पुलिस पर हमला कर दिया.

‘RKR Media’ नाम के एक फ़ेसबुक पेज ने ये वीडियो रिकॉर्डेड लाइव के रूप में दिखाया.

मिशन मोदी नाम के फ़ेसबुक पेज और हिंदुत्व फ़ेसबुक नाम के तेलुगुभाषी यूज़र्स के लिए बने ग्रुप पर भानु प्रकाश ने ये वीडियो शेयर किया था.

79f73c34 d227 4f12 aa4e 7ace3499146f

ये वीडियो ट्विटर पर भी शेयर किया जा रहा है.

गुजरात का पुराना वीडियो

वीडियो में लोगों को गुजराती में बोलते हुए सुना जा सकता है. इसके आधार पर हमने कीवर्ड्स से सर्च करना शुरू किया और मालूम पड़ा कि ये मार-पीट अहमदाबाद के सोला में हुई थी. न्यूज़ 18 गुजराती ने इस घटना के बारे में 21 अक्टूबर 2020 को रिपोर्ट किया था. इसमें बताया गया है कि कांस्टेबल सुनील सिंह शराब के नशे में था और चांदलोडिया इलाके के लोगों के साथ झगड़ने लगा.

न्यूज़ 18 गुजराती ने बताया कि पुलिस ने जिन 6 लोगों को गिरफ़्तार किया, उनके नाम थे – मयूर रमेशभाई रावल, सागर चुन्नीलाल पटेल, दीपेनकुमार महेंद्रभाई मारू, हार्दिक हर्षदभाई ठक्कर, कल्पेश चंदूभाई रावल.

टीवी 9 गुजराती और ज़ी न्यूज़ कलक ने भी इस वीडियो के बारे में रिपोर्ट किया था.

यानी, एक साल भर पुराने गुजरात के वीडियो को इस ग़लत दावे के साथ शेयर किया जा रहा था कि मुस्लिम भीड़ ने तेलंगाना में पुलिसवालों को पीट दिया.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here