फ़ैक्ट-चेक : मुस्लिम समुदाय के लोग गंगा में खड़े होकर नमाज़ पढ़ रहे हैं?

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है. वीडियो में दिख रहा है कि कुछ लोग पानी में खड़े हैं. ये वीडियो शेयर करते हुए लिखा गया है – “यह एक योजना है कि एकान्त स्थान पर गंगा नदी में अज़ान लगा कर कब्जा किया जये। इनकी योजना के अनुसार गंगा नदी के किनारे किनारे पर अस्थाई निवास बनाये जाय बाद में यह स्थाई निवास में परिवर्तन कर दिया जायेगा। क्यों कि विश्व की अगली लड़ाई पानी के लिए होनी है। और यह मॉ गंगा को आबे जमजम बनाए जाने का ऐक्सपेरिमैंट शुरू हो गया है!”.

फ़ेसबुक यूज़र संजय सिंह ने ये वीडियो इसी मेसेज के साथ पोस्ट किया है.

 

यह मुस्लिमोंकी एक योजना है कि एकान्त स्थान पर गंगा नदी में अज़ान लगा कर कब्जा किया जये। इनकी योजना के अनुसार गंगा नदी के किनारे किनारे पर अस्थाई निवास बनाये जाय बाद में यह स्थाई निवास में परिवर्तन कर दिया जायेगा। क्यों कि विश्व की अगली लड़ाई पानी के लिए होनी है। और यह गंगा के किनारे रह कर यह मुस्लिम इस्लाम को बुलन्द करेंगे।

Posted by Sanjay Singh on Monday, 26 July 2021

फ़ेसबुक पेज ‘I Love MODI JI’ ने भी ये वीडियो इसी दावे के साथ पोस्ट किया.

फ़ेसबुक, ट्विटर पर ये वीडियो वायरल है.

2021 07 31 13 36 12 यह मुस्लिमोंकी एक योजना है कि एकान्त स्थान पर गंगा नदी search results Facebo

यूट्यूब पर भी ये वीडियो फ्लोरिडा, भारत, महाराष्ट्र का बताकर अपलोड किया गया है.

फ़ैक्ट-चेक

गूगल पर की-वर्ड्स सर्च करते हुए हमें 25 मई 2020 का ढाका ट्रिब्यून का आर्टिकल मिला. रिपोर्ट में शेयर की गई तस्वीर वायरल वीडियो से मिलती है. आर्टिकल में बताया गया है कि बांग्लादेश के खुलना के कोयरा उपज़िला में अम्फ़ान तूफ़ान के कारण बाढ़ आयी थी. इस वजह से लोगों ने ईद-उल-फ़ितर के मौके पर घुटने तक भरे पानी में नमाज़ पढ़ी थी. रिपोर्ट में लिखा है कि 180 किमी प्रति घंटे की गति से आये तूफ़ान ने काफ़ी तबाही मचाई थी. कोयरा सदर उपज़िला परिषद के चेयरमैन मोहम्मद हुमायूं कबीर ने बताया था कि बाढ़ के कारण करीब 3 हज़ार लोगों ने शहर के 3 अलग-अलग स्थानों पर नमाज़ पढ़ी थी.

2021 07 31 13 54 58 Thousands offer Eid prayer in knee deep water Dhaka Tribune

नीचे वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट और मीडिया रिपोर्ट में दी गई तस्वीर की तुलना की गई है.

2021 08 02 15 10 47 2021 08 02 15 07 32 FAKE 1200 ×

बांग्लादेशी अखबार डेली सन, बांग्ला मिरर ने भी कोयरा में बाढ़ के कारण पानी में नमाज़ पढ़ने की खबर दी थी.

इस तरह, सोशल मीडिया पर 2020 में बाढ़ के कारण बांगलादेश में पानी में खड़े होकर नमाज़ पढ़ने का वीडियो भारत, फ्लोरिडा का बताकर शेयर किया गया. लोगों ने ये वीडियो शेयर कर झूठा दावा किया कि मुस्लिम समुदाय के लोग हिन्दुओ की पवित्र नदी गंगा में नमाज़ पढ़ रहे हैं.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.