CSK स्टार को लगता है कि इंटरनेशल क्रिकेट को खत्म कर देंगी T20 लीग्स

फाफ डु प्लेसी. साउथ अफ्रीका के बल्लेबाज. डु प्लेसी तमाम T20 लीग्स में खेलते दिखते हैं. IPL में चेन्नई सुपरकिंग्स के सीनियर मेंबर डु प्लेसी ने T20 क्रिकेट के बारे में एक बड़ा बयान दिया है. डु प्लेसी का कहना है कि लगातार बढ़ती T20 लीग्स इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए खतरा बन रही हैं. दोबारा से शुरू हो रही पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) के एक मीडिया इंटरैक्शन में बोलते वक्त डु प्लेसी ने कहा कि फ्रेंचाइजी और इंटरनेशनल क्रिकेट में बैलेंस बनाने की जरूरत है.

पेशावर ज़ल्मी के लिए खेलने वाले डु प्लेसी ने कहा,

‘T20 लीग्स इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए खतरा हैं. लीग्स की ताकत लगातार बढ़ती जा रही है और जाहिर है कि शुरुआत में, शायद पूरी दुनिया में सिर्फ दो लीग्स थीं और अब ये हर साल 4,5,6,7 होती जा रही हैं. लीग्स मजबूत ही होती जा रही हैं.

मैं सोचता हूं कि भविष्य में आप ट्राई करें और देखें कि दोनों को साथ-साथ चलाना कैसे संभव है. क्योंकि यह आगे के समय में चलकर एक चॉइस में बदल रहा है और फिर यह इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए एक असली खतरा हो जाएगा.’

डु प्लेसी ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि इंटरनेशनल क्रिकेट आगे चलकर फुटबॉल जैसा हो सकता है. जहां डोमेस्टिक लीग्स काफी ज्यादा महत्वपूर्ण हैं. डु प्लेसी ने कहा,

‘यह एक बड़ा चैलेंज है. शायद 10 साल में क्रिकेट लगभग फुटबॉल जैसा ही हो जाएगा जहां बड़े इवेंट्स होंगे और उनके बीच में लीग्स होंगी जहां प्लेयर्स खेल सकते हैं.’

क्रिस गेल और ड्वेन ब्रावो जैसे क्रिकेटर्स का उदाहरण देते हुए डु प्लेसी ने कहा कि आगे चलकर कई क्रिकेटर्स फ्रीलांस क्रिकेटर बनने के रास्ते पर चल सकते हैं. और इससे उनकी नेशनल टीम का काफी नुकसान होगा. डु प्लेसी ने कहा,

‘अगर मैं अपना ही उदाहरण लूं तो मैं 2 या तीन या फिर चार लीग्स में खेलता हूं लेकिन मैं भविष्यवाणी नहीं कर सकता. बहुत सारे प्लेयर्स हैं जो T20 लीग्स में खेलना चाहते हैं. वेस्ट इंडीज़ यह शुरू करने वाली शायद पहली टीम है. उनके सारे प्लेयर्स इंटरनेशनल टीम छोड़कर T20 लीग्स खेलने निकल गए. इससे वेस्ट इंडीज़ ने कई अहम प्लेयर्स खो दिए. यह साउथ अफ्रीका के साथ भी हो रहा है.’

बता दें कि डु प्लेसी आखिरी बार IPL2021 में दिखे थे. CSK के लिए उन्होंने सात मैचों में 320 रन बनाए थे. अब वह जल्दी ही PSL में पेशावर ज़ल्मी के लिए एक्शन में दिखेंगे. इसके बाद वह दोबारा CSK के लिए खेलने आएंगे. IPL2021 के बचे हुए मैच सितंबर-अक्टूबर में UAE में कराने का प्लान है.


कहानी डेवन कॉन्वे की, जिन्होंने लॉर्ड्स के ऑनर बोर्ड पर पहले मैच में ही नाम लिखवा दिया





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here