IPL का नया ब्लूप्रिंट तैयार, कौन खरीदेगा नई टीम?

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

IPL में 10 टीमें ये सपना अब ज़्यादा दूर नहीं है. बीते कई समय से ये बातें चल रही थी कि IPL में और नई टीमों के जुड़ने का ऐलान हो सकता है. आखिरकार, अब BCCI ने दो नई टीमों को जोड़ने का मन बना ही लिया है. BCCI ने IPL का एक खाका तैयार किया है, जिसमें दो नई टीमें, प्लेयर रिटेंशन, मेगा निलामी, बजट में बढ़ोत्तरी और नए मीडिया अधिकार जैसे प्लॉन रखे गए हैं. इनको अगस्त 2021 से जनवरी 2022 के बीच लाया जा सकता है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक IPL में दो नई टीमों को जोड़ने के लिए टेंडर मिड अगस्त में लाया जाएगा. इसके बाद मिड अक्टूबर में बोली लगाई जाएगी, ये उसी समय होगा जब IPL 2021 के फेज 2 का फाइनल UAE में खेला जा रहा होगा.

कौन-कौन हो सकता है नई टीमों का खरीदार:

दो नई टीमों के ऐलान के बाद ये माना जा रहा है कि कोलकाता के आरपी – संजीव गोयनका ग्रुप, अहमादबाद के अडानी ग्रुप, हैदराबाद के अरबिंदो फार्मा लिमिटेड, गुजरत टोरेंट समूह सहित कई अन्य कॉर्पेट कम्पनी, निजी इक्वटी और निवेश सलाहार फर्म टीम खरीदने में रुचि दिखा रहे है.

BCCI बजट राशि को भी 85 करोड़ से बढ़ाकर 90 करोड़ करने को तैयार है. जिससे (10 फ्रैंचाइजी) की कुल बजट राशि 50 करोड़ रुपये हो जाएगी. फ्रैंचाइजी को अपने बजट का 75 प्रतिशत खर्च करना होगा. अगले तीन साल के बीच बजट राशि 90 करोड़ से 95 करोड़ हो जाएगी और 2024 तक बजट राशि 95 से बढ़कर 100 करोड़ हो जाएगी.

मुंबई इंडियंस की फाइल फोटो.

प्लेयर रिटेंशन का क्या रहेगा गणित?

प्लेयर रिटेंशन को भी फाइनल कर दिया गया है. मेगा ऑक्शन से पहले हर फ्रैंचाइजी सिर्फ 4 प्लेयर्स को रिटेन कर पाएगी. लेकिन इसमें शर्त ये रखी गई है कि या तो टीम तीन भारतीय और 1 विदेशी खिलाड़ी को रिटेन कर पाएगी या फिर 2 भारतीय और 2 विदेशी खिलाड़ी को रिटेन कर पाएगी. फ्रैंचाइजी ऑक्शन में आने से पहले रिटेन किए गए खिलाड़ियों के पैसे बजट में से काट लेती है.

अभी तक अगर फ्रैंचाइजी 3 खिलाड़ियों को रिटेन करती थी तो उसकी बजट राशि से 15 करोड़, 11 करोड़ और 7 करोड़ रुपये कट जाते है. अगर टीम दो प्लेयर्स को रिटेन करती है तो 12.5 करोड़ और 8.5 करोड़ रुपये काटे जाते है. एक ही खिलाड़ी को रिटेन करने पर बजट राशि से 12.5 करोड़ रुपये काटे जाते है.

अब बजट राशि पर 5 करोड़ का इजाफा भी हो रहा है तो 4 खिलाड़ियो को रिटेन करने की अनुमती दी जा रही है. इस नियम में थोड़ा बदलाव होने की संभावनाएं भी है.

प्लेयर रिटेंशन पर ट्रैकिंग डेवलेपमेंट का कहना है कि,

”कुछ खिलाड़ी रिटेन नहीं होने की बजाय ऑक्शन में जाना पसंद करते है. इसके पीछे वजह बजट राशि में बढ़ोत्तरी के साथ दो नई टीमों में जाना भी है. टैलेंटिड प्लेयर्स को अपनी टीम में लेने के लिए भीड़ लग सकती है. कुछ प्रमुख भारतीय खिलाड़ी भी अपने नाम को आगे बढ़ा सकते है.”

मीडिया राइट्स का क्या है प्लान?

इन सबके साथ ही, 2021 के अंत तक BCCI मीडिया राइट्स के ऑक्शन का भी प्लॉन कर रहा है. 2023 के IPL के लिए मार्च का महीना उपलब्ध हो सकता है. ऐसे में बोर्ड 10 टीमों के बीच 90 मुकाबले आराम से करवा सकता है. इसके साथ ही मीडिया राइट्स में BCCI और इंडस्ट्री को 25 प्रतिशत के मुनाफे की उम्मीद है.


Euro2020: क्वॉर्टर-फाइनल में जिगरा दिखाकर भी स्पेन से हार गया स्विज़रलैंड





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.