IPL 2021: महेंद्र सिंह धोनी कप्तानी में खेलने को लेकर डुप्लेसिस बोले- वह बतौर कप्तान सबसे ज्यादा इम्पेक्ट डालते हैं   

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.


दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान फाफ डू प्लेसिस इन दिनों कैरेबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) में सेंट लूसिया किंग्स टीम की कप्तानी कर रहे हैं। डुप्लेसिस पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में कैच लेने के प्रयास में एक खिलाड़ी से टकरा गए थे और फिर कनकशन का शिकार होकर टूर्नामेंट से बाहर हो गए थे। हालांकि डुप्लेसिस अब पूरी तरह फिट हो चुके हैं और वह एक बार फिर से क्रिकेट के मैदान पर लौट आए हैं। सीपीएल में खेलने के बाद वह 19 सितंबर से शुरू हो रहे आईपीएल 2021 के दूसरे फेज के लिए यूएई रवाना होगें, जहां उन्हें महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के लिए खेलना है। डुप्लेसिस ने आईपीएल में धोनी की कप्तानी में खेलने को लेकर अपना अनुभव शेयर किया है।  

ENG vs IND: पूर्व पाकिस्‍तानी कप्तान ने विराट कोहली को दी सलाह, कहा- इन 2 खिलाड़ियो को भी प्लेइंग XI में शामिल करना चाहिए 

सीपीएल टूर्नामेंट के दौरान डुप्लेसिस ने कहा, ‘ हमने अच्छी क्रिकेट खेली थी और उम्मीद है कि हम उसी फॉर्म को आगे भी जारी रखेंगे। पहले हाफ में मैंने शानदार प्रदर्शन किया था और उम्मीद है कि जहां से मैंने छोड़ा था, वहीं से शुरूआत करूंगा। पिछले सीजन के मुकाबले इस बार हमारी टीम ज्यादा संतुलित है।’ 

38 साल के डुप्लेसिस का आईपीएल 2021 के पहले हाफ में प्रदर्शन शानदार रहा था। उन्होंने पहले फेज में 145.45 की स्ट्राइक रेट से 320 रन बनाए थे। उनके लाजवाब प्रदर्शन की बदौलत सीएसके की टीम जीत की पटरी पर लौट आई। सीएसके की टीम इस समय प्वाइंटस टेबल में दिल्ली कैपिटल्स के बाद दूसरे नंबर पर है। सीएसके के खिलाड़ियों ने दुबई पहुंचकर अपनी ट्रेनिंग भी शुरू कर दी है। 

जिम्बाब्वे के टेस्ट कप्तान सीन विलियम्स ने इस वजह से इंटरनेशल क्रिकेट छोड़ने का फैसला किया 

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ने आईपीएल में धोनी के साथ खेलने को लेकर अपने अनुभव शेयर करते हुए कहा, ‘ सीएसके की टीम हमेशा से काफी मजबूत रही है। वो हमेशा अच्छे लीडर्स को टीम में लाने की कोशिश करते हैं। एक समय ऐसा था कि जब हमारी टीम में चार इंटरनेशनल कप्तान एकसाथ खेल रहे थे। वे स्मार्ट क्रिकेटरों पर भरोसा जताते हैं और अनुभवी खिलाड़ियों को उनके साथ खिलाते हैं। धोनी की कप्तानी में खेलना मेरे लिए एक बड़ा फैक्टर होता है। वो शायद मैच में सबसे ज्यादा प्रभाव डालते हैं। पिछले 10 साल मेरे लिए काफी अच्छे रहे हैं और मैंने काफी कुछ सीखा है।’



Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.