NCA में कोचिंग कोर्स करने के बाद पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने जताई इच्छा, इन टीमों के बनना चाहते हैं कोच

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.


पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान ने हाल में राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन में नेशनल क्रिकेट अकेडमी (एनसीए) से कोचिंग का कोर्स किया है। पठान ने इसकी जानकारी सोशल मीडिया पर दी थी। बेंगलुरू स्थित एनसीए से लेवल 2 का कोचिंग का कोर्स करने के बाद उन्होंने एनसीए हेड राहुल द्रविड़ को भी धन्यवाद दिया था। इरफान के अलावा उनके भाई यूसुफ पठान ने भी कोचिंग का कोर्स किया है। कोचिंग कोर्स करने के बाद ऐसा माना जा रहा है कि इरफान अब टीमो को कोचिंग देंगे। हालांकि उनके लिए कोचिंग कोई नई बात नहीं है क्योंकि इससे पहले भी वह घरेलू स्तर पर कोचिंग दे चुके हैं। वह एक कोच-सह-खिलाड़ी के रूप में जम्मू-कश्मीर टीम के लिए खेले और टीम के साथ बहुत अच्छा काम कर चुके है। 

कोचिंग कोर्स करने के बाद इरफान पठान ने क्रिकट्रैकर से बातचीत में कहा कि ​वह नि​​श्चित रूप से टीमों को कोचिंग देना चाहते हैं, चाहे वो आईपीएल की टीमें ही क्यों न हो। बातचीत के दौरान जब इरफान से भविष्य में किसी आईपीएल फ्रेंचाइजी की कोचिंग देने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘ हां, मैं आगे जाकर ऐसा करना पसंद करूंगा और उम्मीद है कि ऐसा होगा।’

IPL 2021 : ट्रेनिंग सेशन के दौरान महेंद्र सिंह धोनी ने लगाया लंबा आसमानी छक्का, देखें-VIDEO

बेंगलुरु स्थित एनसीए में यह कोर्स चार दिवसीय ऑनलाइन और चार दिवसीय ऑनसाइट कोर्स था। इस पूछे जो पर कि इस 8 दिवसीय कोर्स के दौरान आपने मुख्य रूप से क्या कुछ सीखा, तो पठान ने कहा, ‘ जब आपके पास लगभग 175 इंटरनेशनल मैच खेलने का अनुभव हो, जो मेरे पास है, जब आप इस कोर्स के लिए जाते हैं, तो आप वास्तव में हर चीज का विवरण जानने के लिए जाते हैं और मुझे लगता है कि एनसीए इस संबंध में शानदार काम कर रहा है। मैं यह कोर्स क्यों करना चाहता था, वैसे भी मैं पिछले तीन वर्षों से कोचिंग में हूं लेकिन मैं अपनी कोचिंग में सुधार करना चाहता था।’ 

पठान ने कोर्स पूरा होने के बाद एनसीए के प्रमुख राहुल द्रविड़ की खूब तारीफ की और इसके लिए उन्हें धन्यवाद भी दिया। उन्होंने कहा, ‘ भारतीय क्रिकेट में सबसे अच्छी चीज ये हुई है कि राहुल द्रविड़ एनसीए के साथ हेड के रूप में जुड़े हुए हैं। मैं उनका बहुत सम्मान करता हूं। उन्होंने अपना काम पूरी ईमानदारी के साथ किया है। हमें पता है कि राहुल द्रविड़ ने किस तरह इंडिया-ए और अंडर-19 लेवल पर कड़ी मेहनत की थी, लेकिन अब वो एनसीए में हर एक कोच के साथ अपनी नॉलेज शेयर करते हैं और उन जैसे शख्स के लिए ये काफी बड़ी बात है। यही वजह है कि आप उनकी काफी इज्जत करते हैं। आपने चाहे एक फर्स्ट क्लास मैच खेला हो या फिर 100 मैच खेले हों वो आपको उतनी ही इज्जत देंगे।’

तेज गेंदबाजों को 150 Kmph की स्पीड से गेंदबाजी करने में क्यों हो रही परेशानी, स्पीड मास्टर शॉन टेट ने बताई व​जह

उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा था, ‘ मैं अपने फैन्स के साथ शेयर करने के लिए उत्‍साहित हूं कि मैंने एनसीए बीसीसीआई का लेवल 2 हाइब्रिड कोर्स पूरा कर लिया है। मैं राहुल भाई और बाकी सदस्‍यों का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं कि उन्‍होंने मुझे और सभी खिलाड़ियों को आठ दिनों की शानदार ट्रेनिंग दी।’ 





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.