UP और वेनेज़ुएला के दो अलग-अलग वीडियोज़ को जोड़कर इसे सांप्रदायिक ऐंगल के साथ शेयर किया गया

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.


सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है. वीडियो की शुरुआत में कुछ लोग एक लड़के को पीट रहे हैं और इसके दूसरे हिस्से में एक लड़के का गला काटा जा रहा है. व्हाट्सऐप पर ये वीडियो काफ़ी शेयर किया जा रहा है. दावा किया जा रहा है कि मुस्लिम लोग हिन्दुओं को मार रहे हैं. ऑल्ट न्यूज़ के व्हाट्सऐप हेल्पलाइन नंबर (+91 76000 11160) पर इस वीडियो की जांच के लिए कई रीक्वेस्ट आयी हैं.

वीडियो को इस मेसेज के साथ शेयर किया जा रहा है – “मित्रो, हिन्दू के बेटे हो तो और भारत मे जन्म लिया है तो,आपके जितने ग्रुप हो 10,20,30 के उससे भी ज्यादा तो उन सारे ग्रुप्स में इस मैसेज को शेयर करो ताकि कुछ दोगले हिंदुओ को असली भाई चारा समझ में आ जाए और इसको इतना फेलावो की मैसेज हमारे प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदीजी तक पहुच जाए।”

This slideshow requires JavaScript.

इस वीडियो की संवेदनशीलता को देखने हुए ऑल्ट न्यूज़ इसे आर्टिकल में शेयर नहीं कर रहा है. लेकिन नीचे वीडियो के कुछ स्क्रीनशॉट्स शेयर किये गए हैं.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

इन दोनों वीडियोज़ की जांच ऑल्ट न्यूज़ पहले कर चुका है. ये दोनों वीडियोज़ अलग-अलग घटनाओं के हैं. आपको बता दें कि इनमें से एक वीडियो भारत का है भी नहीं.

पहला वीडियो

इस वीडियो को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के मद्देनज़र शेयर किया गया था. इसपर ऑल्ट न्यूज़ की विस्तृत फ़ैक्ट-चेक रिपोर्ट आप यहां पढ़ सकते हैं.

भीड़ द्वारा युवक के साथ मारपीट की ये घटना उत्तर-प्रदेश के मुज़फ्फ़रनगर में स्थित सीकरी गांव की है. अमर उजाला ने 5 मई, 2021 को रिपोर्ट किया था कि अनुज नाम का व्यक्ति पेशे से लाइनमैन है और बिजली में आई किसी दिक्कत को ठीक करने सीकरी पहुंचा था. रिपोर्ट में बताया गया है, “इसी दौरान गांव का ही सलमान अपने भाई अय्याज़ के साथ वहां पहुंचा और लाइनमैन से घर का केबिल बदलने के लिए कहा. इस पर लाइनमैन ने बिना जेई की अनुमति के केबिल बदलने से इंकार कर दिया. आरोप है कि इससे नाराज दोनों भाइयों ने अपने साथियों रफी, खालिद, नाज, आस मोहम्मद, आबिद व एक अज्ञात को वहां बुला लिया और गाली-गलौज करने लगे.”

अनुज के साथ दो और सहकर्मी थे जो मौके से बच निकले और पुलिस को ख़बर की. पुलिस ने संज्ञान लेते हुए आठ लोगों पर मामला दर्ज कर लिया. इसके अलावा, अमर उजाला ने घटना का वीडियो वायरल होने की बात बताते हुए भी लिखा है, “इसी बीच मंगलवार को हमलावरों द्वारा लाइनमैन को एक मकान में खींच ले जाने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.”

Linemen Tied Up And Beaten लाइनमैन को बंधक बनाकर मारपीट Muzaffarnagar News

दैनिक जागरण और हिंदुस्तान ने भी कुछ यही रिपोर्ट किया था.

हमने पाया कि मुज़फ्फ़रनगर पुलिस ने एक यूज़र के पोस्ट के नीचे कमेंट कर बताया कि घटना के बाद 7 नामजद और 10-12 अज्ञात लोगों के खिलाफ़ मामला दर्ज कर लिया गया है.

ऑल्ट न्यूज़ ने भोपा थाने के SHO धीरज सिंह से संपर्क किया और उन्होंने हमें बताया, “हमने मामला दर्ज कर लिया है और जांच चल रही है.” उन्होंने ये भी बताया कि इस मामले में कोई साम्प्रदायिक ऐंगल नहीं है.

दूसरा वीडियो

ये वीडियो भी पश्चिम बंगाल का बताकर सोशल मीडिया पर शेयर किया गया था. हमारे फ़ैक्ट-चेक रिपोर्ट में पता चला कि ये वीडियो भारत का नहीं है.

यांडेक्स पर वीडियो के फ़्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर साल 2018 के आर्टिकल में इस वीडियो की जानकारी मिली. 6 फ़रवरी 2018 की ‘News.com.au’ की रिपोर्ट में इस वीडियो को नॉर्थ अमेरिका के देश वेनेज़ुएला का बताया गया. आर्टिकल में बताया गया कि इस लड़के को दुश्मन ड्रग माफ़िया गैंग ने पकड़ लिया था और किसी अनजान जगह पर उसकी गला काटकर हत्या कर दी गई थी. उन्होंने इस घटना को शूट कर इसका वीडियो शेयर किया था. इस आर्टिकल में वीडियो के कुछ फ़्रेम्स शेयर किये गए हैं.

2021 05 08 12 09 22 Venezuela drug execution Video shows cartel cruelty

6 फ़रवरी 2018 को द डेली मेल ने भी इस घटना के बारे में एक रिपोर्ट पब्लिश की थी. आर्टिकल के मुताबिक, ये लड़का जेल में पनपने वाले खौफ़नाक गिरोह ‘मेगाबंडस’ का शिकार हुआ था. ये गिरोह अपहरण, ज़बरन वसूली और हत्या में माहिर है. ये वीडियो सबसे पहले ‘News.com.au’ में प्रकाशित होने के बाद सामने आया था जिसने हत्या के लिए किसी एक गैंग को ज़िम्मेदार ठहराया था. क्राइम एक्सपर्ट और पत्रकार हेवीयर ईग्नाशियो मेयोर्का ने मार्च 2017 में मीडिया आउटलेट ‘इफेक्टो कोकुयो’ को बताया था कि वेनेजुएला में कम से कम ऐसे 19 गैंग सक्रिय हैं.

2021 05 07 22 33 28 Boy is brutally executed by Venezuelan gang Daily Mail Online 1

द सन ने भी फ़रवरी 2018 में इस घटना के बारे में एक आर्टिकल पब्लिश किया था. इस रिपोर्ट में भी बताया गया है कि ये घटना सबसे पहले ‘News.com.au’ में पब्लिश हुई थी. आर्टिकल में बताया गया है कि ये दुनिया का सबसे भयानक जेल सिस्टम है जिसमें साल 1999 से 2014 के बीच तकरीबन 6,500 हत्याएं हुई हैं. मेगाबंडस गैंग वेनेजुएला सबसे बड़ी ड्रग गैंग है जो द कार्टेल ऑफ़ द सन के साथ काम करते हैं. ये गैंग कोलंबिया से अमेरिका तक ड्रग सप्लाइ करने का काम करते हैं. आर्टिकल में बताया गया है कि साल 2015 में मेक्सिको से गुज़र रहे 2 ऑस्ट्रेलियन व्यक्ति गायब हो गए थे.

यानी, व्हाट्सऐप पर वायरल इस वीडियो का पहला हिस्सा उत्तर प्रदेश में हुई घटना का है जबकि दूसरा हिस्सा वेनेज़ुएला का है. पहले वीडियो में लोग बिजली लाइनमैन की पिटाई कर रहे थे. इस मामले में कोई सांप्रदायिक ऐंगल होने की बात सामने नहीं आयी थी.


मीडिया ने पंजशीर घाटी में तालिबानी आतंकियों के मारे जाने के दावे के साथ पुराना वीडियो चलाया, देखिये :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.